यातायात के लिए शुरू हो जाएगी रोहतांग टनल 2019 में

सामरिक दृष्टि से बेहद महत्वपूर्ण रोहतांग टनल के दोनों किनारें अगले वर्ष जुलाई में जुड़ जाएंगे। इसके बाद इस टनल के बाकि बचे कार्य को पूरा कर इसे वर्ष 2019 में यातायात के लिए खोल दिया जाएगा। इस टनल के कार्य का आज सुबह रक्षा मंत्रालय के अतिरिक्त सचिव जे रामा कृष्णा राव ने दौरा किया तथा यहां चल रहे कार्य का निरीक्षण किया।

रोहतांग सुरंग के उत्तरी छोर का पुल हुआ ध्वस्त

राव ने बीआरओ के चीफ इंजीनियर के साथ रोहतांग सुरंग के साऊथ और नार्थ पोर्टल का दौरा किया। उन्होंने सुरंग के निर्माण में जुटी स्ट्रबेग और एफकॉन सहित सुरंग का डिजाइन करने वाली स्मेक कंपनी के अधिकारियों के साथ विस्तृत चर्चा की और कार्य की रिपोर्ट जानी। चीफ इंजीनियर ब्रिगेडियर डीएन भट ने उन्हें सुरंग के कार्यो से अवगत करवाया।

उन्होंने बीआरओ के कार्यों को सराहा और निर्माण समय पर करने की बात कही। उन्होंने कहा कि जुलाई 2017 में सुरंग के दोनों छोर जोड़ दिए जाएंगे तथा वर्ष 2019 में रोहतांग सुरंग देश को समर्पित कर दी जाएगी। सुरंग के कार्य को देख रहे कर्नल संजय थपलियाल ने बताया कि साऊथ पोर्टल में काम सर्दियों में भी जारी रहेगा जबकि नार्थ पोर्टल में काम मौसम पर निर्भर रहेगा। जब तक बर्फ नहीं पड़ती तब तक नार्थ
पोर्टल में काम को गति दी जाएगी

Check Also

गुजरात नगरपालिका ने मोरबी पुल टूटने की ली जिम्मेदारी :

गुजरात हाई कोर्ट में आज आखिर मोराबी नगर पालिका ने यह बात स्वीकार किया कि …