यू मिली माँ बेटे की लाश बेडरूम में

manju9_1479362749जमशेदपुर(झारखंड)।यहां एक बैंक के सीनियर मैनेजर की पत्नी और चार साल के बेटे की बुधवार को गला काटकर हत्या कर दी गई। पत्नी और बच्चा घर में अकेले थे। दोनों की लाश बेडरूम में मिली। हत्या में किसी परिचित या प्रेम-प्रसंग के चलते भी ऐसा होने की आशंका है। वहीं, आरोपी अलमारी से पति के दो नए शर्ट भी ले गए। ऐसे पता चली मर्डर की बात…

manju11_1479446649-उन्होंने अलमारी में रखे शशि कुमार के दो नए शर्ट निकाले और पहन लिए। खून से सने अपने कपड़े रखकर साथ ले गए।
-अलमारी से दो शर्ट गायब होने से पुलिस का मानना है कि बदमाश कम से कम दो या तीन भी हो सकते हैं।

manju8_1479358789-इंडियन ओवरसीज बैंक के सीनियर मैनेजर शशि प्रसाद की पत्नी मंजू देवी (35) और उनके इकलौते बेटे दुईज कुमार (4) की हत्या कर दी गई।
-मैनेजर का सालभर पहले कोलकाता ट्रांसफर हो गया था। वो कभी-कभार ही जमशेदपुर आते थे।

-शशि ने बुधवार सुबह पत्नी मंजू को फोन किया, लेकिन लगातार कॉल लगाने के बावजूद फोन रिसीव नहीं हुआ।
-चिंता होने पर उन्होंने इंडियन ओवरसीज बैंक, मानगो ब्रांच के स्टाफ आदित्य महेश्वरी को फोन कर घर जाकर पत्नी से बात कराने को कहा।
-आदित्य के अनुसार सुबह पौने नौ बजे शशिजी ने फोन किया। जब वह पहुंचा तो फ्लैट में ताला लगा था।
-अगल-बगल वालों से पूछा, लेकिन कुछ पता नहीं चला। दोपहर 12 बजे फिर पहुंचा लेकिन तब भी ताला लगा था।
-शाम करीब साढ़े पांच फिर पहुंचा, लेकिन तब भी ताला ही मिला। पड़ोस में रहने वाले चंदन कुमार ने पूछताछ की। उन्होंने पुलिस को खबर की। पुलिस माैके पर पहुंची तब मामला खुला।
-पुलिस ने महिला के दो मोबाइल बरामद किए हैं। इसके जरिए हत्या का सुराग टटोलने का प्रयास हो रहा है।
-वारदात मानगो डिमना रोड डी चौधरी मधुसूदन कॉम्प्लेक्स स्थित ब्लॉक प्लैट नंबर 105 में हुई।
-हत्या के बाद आरोपी ने फ्लैट में बाहर से ताला जड़ दिया ताकि किसी को भनक ना लगे।

-बेटे की गर्दन काट शव को पलटा दिया (चेहरा को बिस्तर से सटा दिया)। मंजू देवी बगल में लेटी हुई थी।
-मकान के गेट पर ताला लगा था। पुलिस ने सीढ़ी लगा गैलरी में प्रवेश किया, तब हत्या का खुलासा हुआ।
-घटना के बाद पहुंचे एसएसपी अनूप टी मैथ्यू ने कॉलोनी में लगे सीसीटीवी कैमरे के फुटेज की जांच की।
-वहीं, गेट में तैनात सुरक्षा गार्ड से भी पूछताछ की। कॉलोनी में कुल 22 कैमरे लगे हैं। लेकिन ब्लॉक में कैमरा नहीं लगा है।
-पुलिस के अनुसार मां-बेटे की हत्या किसी परिचित ने ही की होगी। हत्यारे ने मंजू देवी के गले से सोने का मंगलसूत्र, कानबाली को नहीं निकाला और ना ही अलमीरा को खोला।
-घर का सारा सामान सलामत है। किचन में गैस पर चाय की तपेली रखी हुई थी। ऐसे में आशंका जताई जा रही है कि कोई नजदीकी आया होगा। विवाद होने या किसी खुलासे के डर से वारदात कर दी गई।

बच्चे को लिया था गोद
-बिहार शरीफ की लक्ष्मी कॉलोनी निवासी शशि कुमार की शादी 1999 में गया गुरुद्वारा रोड (बिहार) में रहने वाली मंजू के साथ हुई थी।
-गरीब परिवार में जन्मे शशि कुमार ने मेहनत कर बैंक में नौकरी पाई। बच्चा नहीं हुआ तो इलाज कराना शुरू किया।
-शशि गिरिडीह में पदस्थ थे तो वहां बरगंडा में अपना घर बनाया। इसके बाद उन्होंने एक बच्चे को गोद लिया।
-उधर, पुलिस जांच में शामिल अफसर इस संभावना को टटोल रहे हैं कि हत्याकांड के पीछे बच्चा कोई कारण तो नहीं है।

 

Check Also

बारिश

चक्रवाती तूफान यास से मची तबाही, भारी बारिश से आई बाढ़, बिगड़ गए हालात

रांची: चक्रवाती तूफान यास ने कई राज्यों में तबाही मचा चूका है, वहीं यास ने …