बिना इंटरनेट भी काम करेगा ये ब्राउजर एप

स्मार्टफोन से इंटरनेट सर्च की दुनिया में कदम रखने के लिए ब्राउजर एप्लीकेशन की जरूरत पड़ती है जो बिना इंटरनेट के काम नहीं करते। मगर क्या आप जानते हैं कि एक ब्राउजर एप ऐसा भी है जो इंटरनेट कनेक्शन नदारद होने पर भी साइबर संसार से जरूरी सामग्री खंगालने की सुविधा देता है। यही नहीं, गूगल मैप जैसी सुविधा देने वाले एप और विकीपीडिया का भी ऑफलाइन प्रयोग मुमकिन है।

देश-दुनिया की हलचल जान सकेंगे
गूगल प्लेस्टोर पर मुफ्त में उपलब्ध ‘ऑफलाइन ब्राउजर’ पर यूजर को पहले वे साइटें जोड़नी होंगी जिनका वे गाहे-बगाहे इस्तेमाल करते हैं। मिसाल के तौर पर देश-दुनिया की हलचल बताने वाली वेबसाइटों को ले लीजिए। इसके बाद साइट पर उपलब्ध सभी सामग्री डाउनलोड हो जाएगी और मोबाइल में उसे देखा जा सकेगा। ‘ऑफलाइन ब्राउजर’ के इस्तेमाल के लिए एप खोलें और नीचे की तरफ बाईं ओर दिए गए ‘प्लस’ के निशान पर टैप करें। इससे एक नर्ई विंडो खुलेगी जिसमें उस वेबसाइट का पूरा नाम यूआरएल के साथ लिखना होगा जिसका आप ऑफलाइन प्रयोग करना चाहते हैं। एप से जुड़ने वाली सभी ऑफलाइन वेबसाइटें अपने ऑनलाइन वर्जन की तरह ही काम करेंगी।

‘किविक्स’ पर ऑफलाइन विकीपीडिया
किसी भी विषय से जुड़ी जानकारी चंद सेकेंड में प्राप्त करने के लिए विकीपीडिया सबसे उपयोगी वेबसाइट मानी जाती है लेकिन जरा सोचिए, सफर के दौरान इंटरनेट कनेक्शन न होने पर किसी खास विषय के बारे में जानना हो तो आप क्या करेंगे। ऐसी स्थिती से बचने के लिए Kiwix, Wikipedia offline की मदद ले सकते हैं। इस एप में अधिकतर विकीपीडिया पेज सहेजे गए हैं जिनका ऑफलाइन इस्तेमाल किया जा सकता है।

रास्ता भटकने नहीं देगा ऑफलाइन मैप
नए रास्तों पर सफर के लिए अक्सर यूजर जीपीएस पर आधारित गूगल मैप जैसी सेवाओं का सहारा लेते हैं। हालांकि दूर-दराज के इलाकों में इंटरनेट कनेक्शन काफी कमजोर होता है। ऐसे में गूगल प्लेस्टोर पर मुफ्त में मौजूद All-In-One Offline Maps बेहद उपयोगी साबित हो सकता है। यह एप ऑफलाइन नेविगेशन की सुविधा देता है जो आपको किसी मंजिल तक पहुंचने में मदद करता है। जरूरत पड़ने पर इस एप पर मैप को जूम करके बड़ा भी किया जा सकता है। माना जाता है कि ‘ऑल इन वन ऑफलाइन मैप्स’ का जीपीएस फोन नेटवर्क का प्रयोग करके यूजर को लोकेशन की जानकारी देता है।

Check Also

भारत बना अब दुनिया में 5G Mobile के लिए तीसरा सबसे बड़ा बाजार|

बता दें कि भारत अब दुनिया में 5G Mobile के लिए तीसरा सबसे बड़ा बाजार …