राष्ट्र्पति से मिलेंगे हरियाणा के राजनेता सोमवार को सतलुज-यमुना लिंक पर

चंडीगढ़। सतलुज-यमुना लिंक (एसवाइएल) नहर मामले पर हरियाणा के सभी दलों के नेता राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी से फरियाद करेंगे। मुख्यमंत्री मनोहर लाल की अगुवाई में प्रदेश का सर्वदलीय प्रतिनिधिमंडल 28 नवंबर को राष्ट्रपति से मिलेगा। ये नेता इस मामले पर पंजाब द्वारा उठाए कदम की राष्ट्रपति से शिकायत करेंगे और सुप्रीम काेर्ट द्वारा दिए गए निर्णय को लागू करवाने का आग्रह करेंगे।

 

मुख्यमंत्री मनाेहरलाल ने बताया कि राज्य सरकार ने एसवाइएल नहर पर हरियाणा का पक्ष रखने के लिए राष्ट्रपति से समय मांगा था। राष्ट्रपति भवन से 28 नवंबर को सायं छह बजे का समय मिला है। इस दिन हरियाणा के सभी पार्टियों के नेताआें का दल राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी से एसवाइएल नहर के मुद्दे पर अपना पक्ष रखेगा। राष्ट्रपति को हरियाणा की समस्या से अवगत कराया जाएगी और सर्वाेच्च न्यायालय द्वारा दिए गए निर्णय को लागू करवाने का आग्रह करेगा।

 

उन्होंने कहा कि एसवाइएल नहर हरियाणा के किसानों के लिए जीवनरेखा की तरह है। जल समझाैते के अनुसार हरियाणा को उसके हिस्से का पानी मिलना ही चाहिए अौर पंजाब को इस पर अपनी जिद छोड़नी चाहिए। उन्होंने कहा कि हाल ही में चंडीगढ में आयोजित की गई सर्वदलीय बैठक में हरियाणा के हित में सर्वोच्च न्यायालय द्वारा दिए गए निर्णय को लागू करवाने के लिए राष्ट्रपति से मिलने का फैसला किया गया था।

 

Check Also

आखिर क्यों बरसे भाजपा पर खड़गे ?

राहुल गांधी , गांधी परिवार के चौथे नेता के रूप में पठानकोट में जनसभा करने …