सुसाइड से पहले पत्नी ने जताई ऐसी इच्छा कि लोगों की भर गयी आंखें

सुसाइट नोट में लिखा है- ‘मेरे मरने के बाद लाश ससुराल वालों को सौंप देना। मेरी अंतिम इच्छा है कि मेरा जनाजा सुसराल से निकले और मेरे पति मेरी चिता को आग लगाएं’।’

 

 गाजियाबाद.  ‘मेरी लाश ससुराल वालों को सौंप देना और पति से चिता में आग लगवाना..।’ यह लिखना था शुक्रवार शाम को दो साल के बेटे का गला घोंटकर खुद फांसी लगाने वाली गर्भवती रीना का। हालांकि रीना की अंतिम इच्छा अधूरी ही रह गई। घटना के बाद से ही पति सहित उसके ससुराल वाले फरार हैं, जिससे मायके वालों ने उसका अंतिम संस्कार कर दिया। पुलिस को मिला सुसाइड नोट- ‘ससुराल वाले बहुत परेशान करते हैं’ एएसपी अनूप सिंह ने बताया कि रविवार को रीना का सुसाइड नोट मिल गया। उसमें रीना ने अपने दर्द की दास्तां लिखी है। उसने लिखा है, ‘मेरे ससुराल वाले बहुत परेशान करते हैं। मारते-पीटते हैं। उनकी प्रताड़ना से मैं आजिज आ गई हूं, इसलिए दुनिया छोड़कर जा रही हूं। मेरे मरने के बाद लाश ससुराल वालों को सौंप देना। मेरी अंतिम इच्छा है कि मेरा जनाजा सुसराल से निकले और मेरे पति मेरी चिता को आग लगाएं’।’ एएसपी ने बताया कि घटना के दिन से रीना के ससुराल वाले फरार हैं। उनकी गिरफ्तारी का प्रयास किया जा रहा है। बता दें कि राजीव नगर, भोपुरा में रहने वाले ऋषि शर्मा की बेटी ने शुक्रवार की शाम अपने दो साल के बेटे का गला घोंटकर खुद फांसी लगा ली थी। वह पांच माह की गर्भवती थी। जिस समय वारदात हुई उस समय वह ससुरालियों से तंग आकर मायके आई हुई थी। अधूरी रह गई अंतिम इच्छा पिता ऋषि शर्मा ने बताया कि उनकी बेटी की अंतिम इच्छा अधूरी रह गई। अंतिम संस्कार में उसके ससुराल का कोई भी सदस्य शामिल नहीं हुआ। पति भी नहीं आया। उन्होंने कहा कि पुरानी सीमापुरी स्थित श्मशान घाट पर उनके छोटे बेटे चंद्र मोहन शर्मा ने बहन की चिता को आग लगाई। तीन हत्या में दर्ज होगी रिपोर्ट एएसपी अनूप सिंह ने रविवार को घटना स्थल का निरीक्षण किया। उन्होंने बताया कि रीना की मौत फांसी लगने और बेटे आरव की मौत गला दबाने से हुई है। पुलिस घटना की गहनता से जांच कर रही है। पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट आने पर पता चलेगा कि महिला के पेट में पल रहा बच्चा कितने समय का था। उसके बाद इस मामले में दर्ज हत्या की रिपोर्ट में एक हत्या का मुकदमा और बढ़ेगा।

Check Also

मथुरा के प्रकाश चंद्र अग्रवाल आखिर क्यों बैठे धरने पर

मथुरा के प्रकाश चंद्र अग्रवाल ने अपने एक दिन के मुख्यमंत्री बनने पर कार्यकाल के …