विनय कटियार ने कहा “विकास के साथ जातीय समीकरण भी बेहद जरूरी”

उत्तर प्रदेश चुनाव के मद्देनजर शुरू किए गए बीजेपी के परिवर्तन रथ पर बीजेपी के सीनियर नेता विनय कटियार ने कहा है कि चुनाव में विकास के साथ जातीय समीकरण को भी ध्यान में रखना होगा, परिवर्तन रथ पर कम से कम चार नेताओं की तस्वीर लगनी चाहिए थी.

विनय कटियार ने कहा कि पार्टी को नरेन्द्र मोदी के नाम पर ही चुनाव लड़ना चाहिए, लेकिन जनता के सामने चेहरा देने से पार्टी को नुकसान हो सकता है. परिवर्तन यात्रा में ना बुलाए जाने पर विनय कटियार बोले पता नहीं पार्टी ने मुझे क्यों नहीं बुलाया, इसका कारण तो पार्टी ही जानें.

जातीय समीकरण है बेहद जरूरी
उन्होंने कहा कि यूपी के चुनाव में जातीय समीकरण बेहद अहम होता है, यही कारण है कि अलग-अलग जातियों के सम्मेलन भी करवाए जा रहे है, इसलिए विकास के साथ ही जातीय समीकरण को कोई अनदेखा नहीं कर सकता.

राम मंदिर के लिए संसद में बने कानून
राम मन्दिर के मुद्दे पर बोलते हुए कटियार ने कहा कि राम मंदिर के लिए संसद में कानून बनना चाहिए.

विनय कटियार का यह भी कहना है कि रथ यात्राओं पर इन चार नेताओं के अलावा और भी नेताओं के फोटो लग जाते तो अच्छा रहता. उनका यह भी कहना है कि नरेंद्र मोदी पार्टी के सबसे बड़े चेहरा है उन्हीं का चेहरा आगे रखकर बीजेपी चुनाव लड़ेगी और विकास के मुद्दे पर चुनाव लड़ेगी।

Check Also

जानिए यूपी में कब होगा तापमान शून्‍य से भी नीचे

यूपी में कडकडाती ठण्ड लगातार जारी है साम होते ही कोहरे का कहर जारी है. …