सेना को लेकर सरकार के फैसलों पर उठाए सवाल : राहुल

नई दिल्ली। कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखकर सेना को लेकर सरकार के फैसलों पर सवाल उठाए हैं। राहुल ने कहा कि हमारे सैनिक देश के 125 करोड़ देशवासियों की रक्षा में हर दिन अपने प्राणों को दांव पर लगाते हैं।

ऐसे में सरकार को केवल शब्दों से ही नहीं, बल्कि एक्शन से उन्हें और उनके परिवारों को भरोसा दिलाना चाहिए कि संकट की घड़ी में सरकार और पूरा देश उनके साथ है। राहुल गांधी ने पत्र में लिखा कि मैं उस वक्त स्तब्ध रह गए, जब पिछले कुछ हफ्तों में सरकार द्वारा एक्शन लेते हुए विकलांगता पेंशन को एक नए स्लैब सिस्टम में डाल दिया।
इससे विकलांग हुए सैनिकों की पेंशन में कटौती हो गई। वहीं, सातवें वेतन आयोग से भी सैनिकों को निराशा हाथ लगने की बात कही। राहुल गांधी ने कहा कि वन रैंक वन पेंश पर सरकार द्वारा वाजिब कदम नहीं उठाए गए। ऐसे में मजबूरी में हमारे भूतपूर्व सैनकों को सड़कों पर उतरना पड़ा।
उन्होंने कहा कि हमारे सैनिक देश की रक्षा करते हुए अपने नुकसान को लेकर कोई क्लेम नहीं करने जा रहे हैं। ऐसे में यह सरकार का कर्तव्य बनता है कि उन्हें वन रैंक वन पेंशन, विकलांगता पेंशन और मुआवजा समेत सातवें वेतन आयोग को लेकर उचित लाभ दें।
इससे उनके घर और परिवार में भी दीवाली मन सके। पत्र में राहुल गांधी ने आगे लिखा कि यदि हम उन्हें और उनके परिवार को सहायता और सुरक्षा देंगे, तब सैनिक सीमा पर बेफिक्र होकर दुश्मनों का मुकाबला कर सकेंगे।

Check Also

पीएम नरेंद्र मोदी की इशारों-इशारों में पाकिस्तान को चेतावनी :No Money for Terror।

राष्ट्रीय जांच एजेंसी के निर्देशक दिनकर गुप्ता जी ने कहा, आतंकी फंडिंग के लिए सोशल …