सैंडल देने से किया इनकार बड़ी बहन ने तो छोटी ने उठाया ये खौफनाक कदम

कानपुर. यूपी के कानपुर में सोमवार की सुबह एक परिवार की छठ पूजा की खुशियां अचाानक मातम में बदल गईं। परिवार की छोटी लड़की ने खिड़की से लटक कर फांसी लगा लीl घटना के समय पूरा परिवार सूर्य को अर्घ्‍य देने के लिए नहर पर गया था। सुसाइड की सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया है। परिवारवालों ने बताया कि लड़की अपनी बड़ी बहन से नाराज थी, इसीलिए उसने ये खौफनाक कदम उठाया। पढ़ें पूरा मामला…

– कानपुर के गोविंद नगर थानाक्षेत्र में रहने वाले शिव शंकर पाल राज मिस्त्री का काम करते हैं।

– वे यहां पत्नी बिन्दादेवी, बड़ी बेटी रिंकी, बेटा अरविंंद, बेटा नन्हें और सबसे छोटी बेटी पूजा (16) के साथ रहते हैं।

– पूजा 10 वीं की छात्रा थी। परिवार में छठ पूजा की वजह से खुशनुमा माहौल था।

– उसकी बड़ी बहन रिंकी की शादी बिहार के बक्सर में तीन साल पहले हुई थी।

– छठ पर्व मनाने के लिए रिंकी रविवार को कानपुर अपने मायके आई थी।

बड़ी बहन से नाराज थी छोटी बहन

– पूजा की मां बिंदादेवी के मुताबिक, छठ पूजा के मौके पर बड़ी बेटी ससुराल से आई थी।

– उसके आने से यह त्योहार हमारे लिए और भी खास हो गया था।

– जब हम सभी शाम के वक्त पूजा के लिए जा रहे थे तभी पूजा, रिंकी से उसकी सैंडल पहनने की जिद करने लगी।

– वो कहने लगी- ‘दीदी ये सैंडल बहुत अच्छी है, इसे मैं पहनकर छठ मेले में पूजा के लिए जाउंगी।’

– रिंकी ने कहा- अभी मैं पहन लूं, पूजा करके जब लौटेगें तो तुम्‍हें नई सैंडल खरीद देगें।

– मां ने बताया कि वो इसी बात पर नाराज हो गई।

– जब सभी पूजा के लिए जाने लगे तो उसने कहा- ‘आप सभी चलो मैं आ रही हूं।’

– उसके कहने पर हम सभी चले गए तभी उसने खिड़की में फंदा लगाकर फांसी लगा ली।

घटना काकिराएदार से पता चला

– लड़की के पिता शिव शंकर ने बताया कि हमारे मकान के ऊपर के पोर्शन में तीन किराएदार रहते हैं।

– बेटी ने जहां पर फांसी लगाई थी, उसके ऊपर की छत पर लोहे का जाल पड़ा हुआ है।

– किराएदार कोमल की उस पर नजर पड़ी कि खिड़की से पूजा लटकी हुई है, तो उसने इसकी सूचना हमें दी।

– पूजा छोड़ कर हम सभी नहर से भाग कर आए तो देखा पूजा का शव खिड़की से लटक रहा था।

– इसके बाद पुलिस के आने के बाद शव को नीचे उतारा गया।

जिंदगी भर याद रहेगा ये दिन

– पूजा की बड़ी बहन रिंकी के मुताबिक, ‘मुझे क्या पता था कि मेरी इतनी से बात पर वो इतना नारज हो जाएगी।’

– ‘उसने इतना बड़ा कदम उठा लिया कि हम सभी को छोड़ कर चली गई। हे छठ मैया हमसे क्या गलती हो गई।’

– उसने कहा कि जिंंदगी भर छठ का दिन याद रहेगाl इतनी छोटी सी बात पर बहन ने जान दे दी जिसकी उम्मीद नहीं थी।

क्‍या कहती है पुलिस ?

– गोविंद नगर सीओ ज्ञानेंद्र सिंह के मुताबिक, नाबालिग लड़की ने फांसी लगाई है।

– उसके शव को कब्जे में लेकर पोस्टमॉर्टम के लिए भेजा गया है।

– परिजनों ने किसी पर कोई आरोप नहीं लगाया है।

– वो किसी बात को लेकर नाराज थी, जिसकी वजह से उसने फांसी लगाई है।

 

Check Also

नीलांश वाटर पार्क को लेकर क्या मिलेगी किसानों को न्याय ?

बीकेटी, लखनऊ। बख्शी का तालाब तहसील क्षेत्र के इटौंजा थाना एनएच हाइवे सीतापुर रोड ओवर …