भीमराव अम्बेडकर विश्वविद्यालय के कुलपति ने एक आदेश जारी किया

 

 

प्रदेश की राजधानी लखनऊ के केन्द्रीय विश्वविद्यालय भीमराव अम्बेडकर विश्वविद्यालय के कुलपति ने एक आदेश जारी कर यह कहा है कि सायं 6 बजे के बाद विश्वविद्यालय कैम्पस के अन्दर रूकने के लिए किसी भी छात्रा, शिक्षिका, महिला कर्मचारी को कुलपति की अनुमति लेनी चाहिए, पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए उ0प्र0 कंाग्रेस कमेटी के प्रवक्ता संजय बाजपेयी ने कहा कि यह सीधे-सीधे स्वीकारोक्ति है कि उ0प्र0 में महिलाओं की सुरक्षा पूरी तरह खतरे में है और योगी सरकार महिला सुरक्षा के मामले में चाहे जो चेतावनी व भाष्षणबाजी करे किन्तु केन्द्रीय विश्वविद्यालय के कुलपति की स्वीकारोक्ति इस सरकार की नाकामी का सबसे बड़ा सबूत है।
प्रदेश कंाग्रेस के प्रवक्ता संजय बाजपेयी ने आज जारी बयान में कहा कि योगी सरकार द्वारा महिला सुरक्षा के नाम पर किये गये कवायद के तहत एण्टी रोमियो स्क्वायड पूरी तरह फ्लाप रहा, वूमेन पावर लाइन-1090 सुविधा महिलाओं को सुरक्षा देने में पूरी तरह विफल रहा। इन सारी चीजों को देखते हुए अब किसी तरह के संदेह की गुंजाइश नहीं रह गयी है कि प्रदेश में योगी सरकार पूरी तरह से महिलाओं को सुरक्षा देने में असफल साबित हुई है।

Check Also

स्कूलों का दौरा करने पहुंची अभिनेत्री प्रियंका चोपड़ा

अभिनेत्री प्रियंका चोपड़ा लखनऊ के दौरे पर हैं। मंगलवार को वह लोकबंधु अस्पताल पहुंचीं। सोमवार …