राजस्थान:दलित विधायक ने लगाए गहलोत पर आरोप,जात-पात को देख कर काम करते है पार्टी सदस्य

राजस्थान।करौली में हुई पुजारी की हत्या के मामले में सरकार को आलोचना का सामना करना पर रहा है तो वहीं अशोक गहलोत के लिए एक और मुसीबत खड़ी हो रही है.गहलोत सरकार के खिलाफ उनके ही पार्टी के एक विधायक ने गंभीर आरोप लगाए है.कांग्रेस के दलित विधायक ने कहा है कि सरकार में न तो दलित विधायक की बातें सुनी जाती है और न ही कर्मचारियों की कोई सुनवाई होती है.उन्होंने कहा कि राजस्थान की सरकार में जो भी ब्राह्मण मंत्री है वे दलितों व्यक्तियों का काम नहीं करते हैं.उन्होंने कहा कि जब सरकार में जात-पात को देखकर काम किया जा रहा है तो निम्न व्यक्तियों का क्या हाल होगा?

यह भी पढ़ें: हाथरस कांड: शव जलाए जाने के मामले को हाईकोर्ट ने लिया में संज्ञान में…

क्या हैं पूरा मामला

कठूमर विधानसभा क्षेत्र  के कांग्रेस विधायक बाबूलाल बैरवा ने अशोक गहलोत की सरकार पर आरोप लगाया है कि जब भी मैं दलितों के काम के लिए कोई कागज देता हूं तो वह काम नही किया जाता है.ब्राह्मण का टैग देखकर ही काम किया जाता है.बैरवा वे बताया कि स्वास्थ्य विभाग में चार ट्रांसफर दिए गए थे जिसमें से एक ब्राह्मण थे बाकी तीन दलित थे.ब्राह्मण का ट्रांसफर कर दिया गया है जबकि  3दलितों का ट्रांसफर रोक दिया गया है।

 

 

 

 

Check Also

लखनऊ में 5 मंजिला इमारत गिरने से मचा हड़कंप

उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में मंगलवार की शाम को एक पांच मंजिला इमारत भरभराकर …