कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू समय से पहले हो सकते है रिहा

पंजाब कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष रह चुके नवजोत सिंह सिद्धू वर्तमान में पटियाला सेंट्रल जेल में बंद है। उन्हें रोड रेज मामले को लेकर एक साल की सजा सुनाई गई थी। जिसका छह महीना पूरा हो चुका है। जनवरी तक उनके रिहा होने की संभावना जताई जा रही है। स्टेट जेल डिपार्टमेंट के कई सूत्रों ने बताया है कि जेल अधिकारियों ने सिद्धू के व्यवहार के संबंध में सकारात्मक रिपोर्ट तैयार की है। अटकलें ये भी हैं कि सिद्धू 26 जनवरी को सरकार की उस परंपरा के तहत जेल से बाहर आ सकते हैं। जब अच्छे व्यवहार का प्रदर्शन करने वाले कैदियों को छूट दी जाती है।
कांग्रेस के नेता नवजोत सिंह सिद्धू के मीडिया सलाहकार सुरिंदर दल्ला ने कहा है कि सिद्धू जी के जेल से लौटते ही मिशन 2024 शुरू हो जाएगा। 29 नवंबर की तारीख को दल्ला ने पंजाबी में एक ट्वीट किया था। जिसमें लिखा था की पंजाब के अधिकारों की रक्षा के लिए लड़ाई जारी रहेगी। पंजाब में अभी भी कई समस्याएं है। इससे बाहर निकालने के लिए सिद्धू ने एक मॉडल भी दिया था। पंजाब के इंजन को बदलने की जरूरत है न कि मरम्मत की। दल्ला शायद उस पंजाब मॉडल की बात कर रहे हैं जिसे सिद्धू ने पंजाब विधानसभा चुनाव से पहले राज्य की वित्तीय समस्याओं को दुरुस्त करने के संबंध में साझा किया था। नवजोत सिंह सिद्धू 1988 के एक रोड रेज मामले में जेल गए हैं। मई 2022 में सुप्रीम कोर्ट ने उन्हें एक साल की सजा सुनाई थी। इसके बाद सिद्धू ने खुद ही 20 मई को अदालत में आत्मसमर्पण कर दिया था। तब से वह पटियाला सेंट्रल जेल में बंद हैं। सरकारी अधिकारी के मुताबिक कोई ऐसी रिपोर्ट नहीं है जिससे ये साबित हो कि जेल में सिद्धू का व्यवहार आपत्तिजनक है। वैसे भी वे अपना काफी समय ध्यान लगाने में बिताते हैं।
अधिकारी ने कहा कि पंजाब जेल नियमावली के अनुसार हर कैदी जेल में बिताए हर महीने के लिए चार दिन की राहत पाने का हकदार होता है। अगले साल जनवरी तक सिद्धू आठ महीने के लिए 32 दिनों की छूट जमा कर चुके होंगे।

Check Also

गणतंत्र दिवस के कुछ अनसुलझे पहलू

बलिदानों का सपना सच हुआ देश तभी आजाद हुआ आज सलाम है योद्धाओं को जिनकी …