जानिये , व्रत रखने के क्या फायदे होते हैं |

लाइफस्टाइल डेस्क आज के समय में हिन्दू धर्म में ज्यादातर लोग व्रत रखते हैं जुलाई से ही व्रत रखना शुरू हो जाता हैं | जैसे सावन का सोमवार , से हरयाली तेज़ हो जाती है जैसे कई अवसरों पर महिलाएं व्रत रखकर पूजा-पाठ करती हैं। अब नवरात्रि शुरू होने जा रहा है नौ दिन तक उपवास रखा जाता हैं लोग अक्सर कुछ न कुछ खाया करते और कुछ लोग नौ दिन तक अन्न को नौ दिन तक त्याग करते हैं। तो ऐसा करना नौ दिन तक कितना सही है और कितना गलत है ,ये जान लेना बहुत जरुरी हैं |

आज के समय में व्रत रखना सेहत के लिए काफी हानिकारक ये काफी नुकसानदेह होता है | व्रत रखते समय घंटों तक खाली पेट रहते हैं। उसके बाद उन्हें बहुत तेज भूख लगती है। इसलिए न चाहते हुए भी उनसे ओवर ईटिंग हो ही जाती है। इस अवस्था में अंतः स्त्रावी ग्रंथियों से इंसुलिन का अधिक मात्रा में सिक्रीशन होता है। इससे शरीर में बहुत ज्यादा कैलरी अब्जॉर्ब होने लगती है। इसी वजह से ज्यादा व्रत रखने वाले लोग अक्सर ओवरवेट होते हैं और वे यह सोचकर चिंतित रहते हैं कि व्रत रखने के बावजूद मेरा वजन कम क्यों नहीं हो रहा। उनका ऐसा सोचना बिल्कुल गलत है। व्रत रखने से वज़न घटने के बजाय बढ़ता है। उपवास के दौरान शरीर का मेटाबॉलिक रेट कम हो जाता है। इससे कैलोरी बर्न होने के बजाय शरीर में जमा होने लगती है, जो मोटापे का कारण बन जाती है। व्रत की वजह से एसिडिटी और गैस की भी समस्या होती है। एक बात ये सच है कि व्रत से पाचन तंत्र को आराम मिलता है। लेकिन लंबे समय तक भूखा रहने सही नहीं होता हैं हम लोग को बीच में हल्का फुल्का खाना चाहिये |

व्रत से होने वाले हानिकारक दुष से बचने के लिए बीच-बीच में नींबू पानी, पाइनएप्पल जूस, नारियल पानी, विटामिन ए से भरपूर फल जरूर लेना चाहिए।

गर्भवती और स्तनपान कराने वाली महिलाओं को आलू, खीर, साबूदाना, पकोड़े जैसे हैवी खाने से परहेज़ करना चाहिए, क्योंकि इस तरह का खाना वज़न बढ़ाने में अहम रोल निभाता है।

व्रत में लोग अक्सर बहुत ज्यादा चाय या कॉफी, मीठी चीज़ें लेना पसंद करते हैं लेकिन नहीं पीना चाहिए हानिकारक होती हैं |

जिन लोगो को किडनी, हार्ट या या लंग्स की बीमारियों जूझ रहें हैं तो वह व्रत न रखे |

 

 

Check Also

 साबूदाना खाने से मिलते हैं ये जबरदस्त फायदे

साबूदाने का नाम सुनते ही दिमाग में सफेद रंग के बीज या मोती जैसे खाद्य …