UP में सुरक्षित नहीं पुजारी! हैरान करने वाले हैं विपक्ष के आंकड़ें

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के गोंडा जिले में देर रात पुजारी पर जानलेवा हमला किया गया, इसे लेकर राज्‍य में सियासत शुरू हो गई है। योगी सरकार पर कांग्रेस ने गंभीर आरोप लगाए हैं। आज यूपी कांग्रेस ने पिछले दिनों यूपी हुई साधु-संतों पर हमले को लेकर सरकार पर हमला बोला।

यह भी पढ़ें: ‘चीन की मदद से अनुच्छेद 370 की बहाली की उम्मीद’

यूपी कांग्रेस ने पिछले दो साल में यूपी में साधु-संतों पर 20 हमले गिनाए और मैप जारी किया है। यूपी कांग्रेस ने ट्वीट किया कि ‘यूपी में पिछले दिनों एक के बाद एक साधुओं की हत्याएं हुई हैं। कुछ हत्याओं को पुलिस बस आत्महत्या बता कर अपनी कन्नी काट लेती है।’

वहीं, यूपी कांग्रेस के अध्यक्ष अजय लल्लू ने ट्वीट किया कि ‘गोंडा में रामजानकी मंदिर के पुजारी सम्राट दास को भूमाफियाओं ने गोली मार दी। भूमाफियाओं और सत्ता के गठजोड़ ने यूपी को अपराध के हवाले कर दिया है। सरकार की जवाबदेही शून्य है, सीएम की संवेदना मरी है, बतौलेबाजी बढ़ी है। यह कथित रामराज्य है जहां कोई सुरक्षित नहीं है।’

उधर, मुंबई कांग्रेस के नेता संजय निरूपम ने साधु-संतों पर हमले को लेकर सवाल उठाए। उन्होंने ने ट्वीट किया, ‘गोंडा, यूपी में कल एक मंदिर के पुजारी पर जानलेवा हमला हुआ। मैंने कल ही कहा था, ‘यह एक खतरनाक ट्रेंड है। साधु-संतों पर हमले क्यों बढ़ रहे हैं, इसकी तह में जाना जरूरी है और इसे रोकने का पुख्ता इंतजाम सभी सरकारों को गंभीरता से करनी चाहिए।’

समाजवादी पार्टी ने भी साधा निशाना

समाजवादी पार्टी ने भी योगी सरकार पर हमला बोला और कहा कि यूपी की BJP सरकार के जंगलराज में जारी है देवकार्य में लगे पुजारियों पर जानलेवा वार!

पढ़िए पूरा मामला

आपको बता दें कि गोंडा जिले के इटियाथोक थाना क्षेत्र में शनिवार रात मंदिर के एक पुजारी के सीने में बंदूक सटाकर गोली मार दी गई। बुरी तरह घायल हुए पुजारी की हालत गंभीर है, उन्हें लखनऊ रेफर कर दिया गया। वारदात को जमीन के विवाद में अंजाम दिया गया। मामले में चार लोगों के खिलाफ नामजद तहरीर दी गई है। पुलिस हमलावरों की तलाश में जुटी है।

दरअसल, इलाके के तिर्रे मनोरमा मंदिर की 100 बीघा जमीन पर दबंगों की नजर है जिसे लेकर लंबे समय से विवाद चल रहा था। मंदिर में महंत सीताराम दास व छोटे बाबा उर्फ सम्राट दास पूजा पाठ करते हैं। शनिवार रात दबंगों ने छोटे बाबा के सीने में बंदूक सटाकर गोली मार दी। वारदात से हड़कंप मच गया। मामले की जानकारी पर पुलिस अधीक्षक शैलेंद्र पांडेय ने रात तीन बजे ही घटनास्थल का दौरा किया और पुलिस फोर्स तैनात कर दी।

 

Check Also

आरोपी आशीष मिश्रा को मिली 8 हफ्ते की जमानत

लखीमपुर खीरी हिंसा मामले में सुप्रीम कोर्ट ने आरोपी आशीष मिश्रा को अंतरिम जमानत दे …