लखीमपुर में 19 अक्टूबर से खुलेंगे कक्षा 9 से 12 तक स्कूल, DM ने जारी किए दिशा-निर्देश  

लखीमपुर खीरी. सोमवार को जिला अधिकारी शैलेंद्र कुमार सिंह ने जिला मुख्यालय पर कलेक्ट्रेट सभागार में जिले के सभी शिक्षा बोर्डों के स्कूल प्रतिनिधियों के संग बैठक की। बैठक में डीएम ने कोविड-19 के परिपेक्ष में जिले में संचालित सभी शिक्षा बोर्ड के कक्षा 09-12 के विद्यालयों में भौतिक रूप से पठन-पाठन पुनः प्रारंभ किए जाने के संबंध में आवश्यक दिशा निर्देश दिए।

बैठक की अध्यक्षता करते हुए डीएम ने निर्देश दिए कि विद्यालय खोले जाने से पूर्व उन्हें पूरी तरह से सैनिटाइज किया जाए तथा यह प्रक्रिया प्रतिदिन प्रत्येक पाली के उपरांत नियमित रूप से सुनिश्चित की जाए। विद्यालयों में सेनीटाइजर, हैंड वॉश,थर्मल स्कैनिंग एवं प्राथमिक उपचार की व्यवस्था सुनिश्चित की जाए। यदि किसी विद्यार्थी, शिक्षक या अन्य कार्मिक को खांसी, जुकाम या बुखार के लक्षण हो तो उन्हें प्राथमिक उपचार देते हुए घर वापस भेज दिया जाए। विद्यार्थियों को हैंड वास, हैंड सेनीटाइजर कराने के पश्चात ही विद्यालय में प्रवेश दिया जाए।

विद्यालय में प्रवेश के समय या छुट्टी के समय मुख्य द्वार पर सोशल डिस्टेंसिंग का अनुपालन सुनिश्चित कराया जाए तथा एक साथ सभी विद्यार्थियों की छुट्टी ना की जाए। विद्यालय में यदि एक से अधिक प्रवेश द्वार है तो उसका उपयोग सुनिश्चित किया जाए।  यदि विद्यार्थी स्कूल बसों अथवा विद्यालय से संबंधित सार्वजनिक सेवा वाहन से विद्यालय आते हैं तो उन्हें प्रतिदिन सैनिटाइज कराया जाए तथा बैठने की व्यवस्था में सोशल डिस्टेंसिंग का अनुपालन सुनिश्चित कराया जाए।

सभी शिक्षकों, विद्यार्थियों तथा विद्यालय के अन्य कर्मचारियों को मास्क पहनना अनिवार्य होगा। विद्यालय प्रबंधन द्वारा अतिरिक्त मात्रा में मास्क उपलब्ध रखे जाएं।उन्होंने कहा कि विद्यार्थियों को छह फीट की दूरी पर बैठने की व्यवस्था सुनिश्चित की जाए। ऑनलाइन पठन-पाठन की व्यवस्था यथावत जारी रखी जाए व इसे प्रोत्साहित किया जाए। जिन विद्यार्थियों के पास ऑनलाइन पठन-पाठन की सुविधा उपलब्ध नहीं है। उन्हें प्राथमिकता के आधार पर विद्यालय बुलाया जाए, यदि कोई विद्यार्थी ऑनलाइन अध्ययन करना चाहता है, तो उसे सुविधा उपलब्ध होनी चाहिए। विद्यालय दो पालियों में संचालित किए जाएं।

प्रथम पाली में कक्षा 9 से 10 तथा दूसरी पाली में कक्षा 11 एवं 12 के विद्यार्थियों को पठन-पाठन हेतु बुलाया जाए। एक दिवस में प्रत्येक कक्षा में अधिकतम 50 प्रतिशत तक विद्यार्थियों को ही बुलाया जाए। अवशेष 50 प्रतिशत विद्यार्थियों को अगले दिन बुलाया जाए। विद्यार्थियों को उनके माता-पिता एवं अभिभावकों की लिखित सहमति के उपरांत ही पठन-पाठन हेतु बुलाया जाए। विद्यालय में उपस्थित हेतु लचीला रुख अपनाया जाए तथा किसी विद्यार्थी को विद्यालय आने के लिए बाध्य ना किया जाए। कोविड-19 के फैलाव तथा उसके बचाव के उपायों से समस्त विद्यार्थियों को जागरूक किया जाए।

यह भी पढ़े:ऑनलाइन बैकिंग की सेवा हुई ठप, जल्द शुरु की जाएगी सेवाएं

डीएम ने बताया कि प्रथम पाली में कक्षा 9-10 प्रातः 8:00 बजे से 11:00 बजे तक एवं द्वितीय शिफ्ट में कक्षा 11-12 अपराहन 12:00 बजे से 3:00 बजे तक कक्षाएं संचालित होंगी।बैठक में जिला विद्यालय निरीक्षक हयात अली अंसारी, सहित सभी शिक्षा बोर्ड के प्रधानाचार्य एवं प्रबंधक गण मौजूद रहे।

संवाददाता- दिवाकर गिरी

Check Also

जानिए यूपी में कब होगा तापमान शून्‍य से भी नीचे

यूपी में कडकडाती ठण्ड लगातार जारी है साम होते ही कोहरे का कहर जारी है. …