नीलांश वाटर पार्क को लेकर क्या मिलेगी किसानों को न्याय ?

बीकेटी, लखनऊ। बख्शी का तालाब तहसील क्षेत्र के इटौंजा थाना एनएच हाइवे सीतापुर रोड ओवर ब्रिज के पास दीपक शुक्ला तिरंगा व किसानों द्वारा पिछले 100 दिनों से धरना प्रदर्शन किया जा रहा है। बता दें कि बुधवार को दीपक शुक्ला तिरंगा व किसानों ने नीलांश वाटर पार्क का पुतला फूंक कर गोमती नदी की आरती करके नीलांश वाटर पार्क में ताला डालने का निर्णय लिया था बुधवार को ही सुबह से इटौंजा बीकेटी सैरपुर थाना सहित सैकड़ों की संख्या में पुलिस व पीएसी बल तैनात हो गया, दीपक शुक्ला तिरंगा व किसानों द्वारा मांगे ना पूरी होने के कारण धरना स्थल पर ही योगी मोदी के नारे लगाते हुये अपना विरोध दर्ज कराया तथा धरना स्थल पर बीकेटी तहसीलदार राजेश विश्वकर्मा पहुंचकर किसानों से वार्ता की लेकिन किसानों ने तहसीलदार को ज्ञापन देने से मना करते हुये तहसीलदार से कहा कि किसान ज्ञापन सीधे लखनऊ डीएम सूर्यपाल गंगवार को ज्ञापन देंगे। तहसीलदार ने कहा कि मुझे दे दो मैं इस ज्ञापन को मुख्यमंत्री तक पहुंच जाऊंगा लेकिन तिरँगा महराज ने साफ मना कर दिया तहसीलदार वापस चले गये।


तिरँगा महराज जैसे ही धरना स्थल से नीलांश वाटर पार्क में ताला डालने के लिए निकले भारी पुलिस बल ने उन्हें धरने से आगे नहीं बढ़ने दिया और तिरंगा महाराज को मुख्यमंत्री से मिलाने का वादा कर समझा-बुझाकर ज्ञापन लिया
इटौंजा थाना प्रभारी रविंद्र कुमार ने बताया किसी कारणवश नहीं आ सकते हैं आप किसी अन्य अधिकारी को मौके पर बुलाकर ज्ञापन दे दो पर तिरंगा महाराज ने राजस्व के अन्य किसी अधिकारी को ज्ञापन देना मुनासिब नहीं समझा और उन्होंने पुलिस प्रशासन को ही ज्ञापन सौंपा किसान व दीपक शुक्ला तिरंगा ने इटौंजा थाना प्रभारी रवीन्द्र कुमार, सैरपुर थानाध्यक्ष ए0.ए0. अंसारी, बीकेटी थाना अतिरिक्त प्रभारी, महोना चौकी प्रभारी धर्मेंद्र जैन को ज्ञापन देकर किसान धरना पर फिर बैठ गये।

दीपक शुक्ला तिरंगा ने कहा कि धरना प्रदर्शन लगातार चलता रहेगा, जब तक किसानों को न्याय नहीं मिल जाएगा। वही धरना प्रदर्शन के दौरान आजाद भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय अध्यक्ष अजीत पांडे अपने सैकड़ों कार्यकर्ताओं के साथ पहुंचकर दीपक शुक्ला तिरंगा के धरने में समर्थन देकर उनके साथ बैठ गये। राष्ट्रीय अध्यक्ष अजीत पांडे ने बताया कि मैं दीपक शुक्ला तिरंगा के साथ हूं और जब तक किसानों को न्याय नहीं मिलेगा तब तक मैं भी इनके साथ कदम से कदम मिलाकर चलता रहूंगा। धरना स्थल पर महिला किसान वीना देवी बेहोश होकर गिर पड़ी जिनके मुंह पर पानी डालकर उनको बिठाया गया बिना देवी रो रो कर अपना दर्द बयां कर रही थी बीना देवी का कहना है कि कोई नहीं सुनने वाला है योगी जी आप ही मेरी समस्या सुनिये और मुझे न्याय दीजिए।

दीपक शुक्ला तिरंगा ने कहा कि नीलांश वाटर पार्क पर अधिकारी कार्यवाही नहीं कर रहे हैं मुझे सिर्फ मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर भरोसा है मैं मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से मांग करता हूं कि किसानों की जमीन दिलाएं गरीब किसान मुख्यमंत्री से आस लगाए बैठे हुए हैं आखिर क्यों नीलांश वाटर पार्क पर कार्यवाही नहीं हो रही है आखिर अधिकारी किसानों को न्याय क्यों नहीं दे पा रहे हैं सांसद विधायक इस मामले में क्यों कुछ नहीं कर पा रहे हैं धरना प्रदर्शन चलता रहेगा जब तक किसानों को न्याय नहीं मिल जाता, कड़ाके की ठंड में भी धरने पर बैठ कर किसान अपना विरोध दर्ज कराते रहेंगे

Check Also

रूम हीटर के नुकसान

पूरे उत्तर भारत में सर्दी का आलम बना हुआ है। ऐसे में कई लोग अलाव …